यूट्यूब से पैसे कैसे कमाएं | How to Make Money From Youtube in Hindi

Spread the love

यूट्यूब से पैसे कैसे कमाएं | Youtube se paise kaise kamaye

youtube se paise kaise kamaye | यूट्यूब अमेरिका में रजिस्टर्ड एक विडिओ शेयरिंग प्लेटफॉर्म हैं. यूट्यूब में आप  इन्फॉर्मेशनल , एंटेरटेनिंग और भी अनेक तरह के कंटेंट को वीडियो और लाइव स्ट्रीमिंग के रूप में देख सकते हैं. यूट्यूब सिर्फ  वीडियो देखने के लिए ही नहीं हैं, आप चाहें  तो खुद अपने वीडियो बनाकर भी यूट्यूब के जरिये पब्लिश कर सकते हैं. और यदि आपके वीडियोस को काफी लोग देखते हैं तो यूट्यूब से आप रेवेंन्यु भी कमा सकते हैं. तो आइये जानते हैं कि यूट्यूब के जरिये आप अलग-अलग तरीकों से कैसे कमा सकते हैं.

हालाँकि यूट्यूब से पैसे कमाना इतना आसान भी नहीं हैं जितना दिखता हैं. अब यूट्यूब दुनिया में दूसरे नंबर का सर्च इंजन बन चुका हैं, लाखों लोग रोज करोड़ों वीडियोस यूट्यूब पर अपलोड करते हैं. मतलब साफ हैं कि अब यूट्यूब में पैसे कमाने के लिए आपको प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा. मगर यदि आप के कंटेंट में गुणवत्ता हैं तो आपको चिंता करने की जरुरत नहीं हैं. आपको लगातार अच्छी गुणवत्ता वाले वीडियो अपलोड करते रहना हैं. आपको अपने दर्शकों की जरुरत को समझना पड़ेगा, उन्हें वैल्यू देनी होगी. जितनी देर तक आपके दर्शक आपके वीडियो को देखते हैं उतने ही ज्यादा आपके वीडियोस यूट्यूब द्वारा लोगों को सुझाये जायेगे और आपके वीडियोस को रिस्पेक्ट  मिलेगी.

सरल शब्दों में, अगर आपके वीडियोस को लोग आखिरी तक देखते हैं, तो यूट्यूब ये मान लेता हैं कि लोग आपके कंटेंट को पसंद कर रहे हैं. इसका मतलब यह हुवा कि यूट्यूब  और भी ज्यादा लोगों को आपका कंटेंट सजेस्ट करेगा तो आपके व्यूवर्स बढ़ने लगेंगे और  ज्यादा से ज्यादा विज्ञापन आपके चैनल पर चलेंगे. यूट्यूब विज्ञापन से आपकी कमाई भी ज्यादा होगी. मगर इस सबके लिए आपको अपने दर्शकों के बीच में बिश्वास पैदा करना पड़ेगा. इसके लिए आपको अपने दर्शकों से लगातार जुड़े रहना चाहिए. कमैंट्स के जबाब देते रहने चाहिए

आईये जानते हैं कि हम यूट्यूब से कैसे और कितने तरीके से कमा सकते हैं. (youtube se paise kaise kamaye)

यूट्यूब विज्ञापन से कमाई (Earning from Advertisement or Youtube Partner Program)

यूट्यूब से कमाने का सबसे पहला और स्वाभाविक तरीका हैं यूट्यूब में चलने वाले विज्ञापनों से कमाना. यूट्यूब आपके वीडियो में चलने वाले विज्ञापन में आपको  55% हिस्सा देता हैं. मतलब एक विज्ञापनदाता अगर 100  रुपए यूट्यूब विज्ञापन के लिए खर्च करता  हैं तो आपको  55  रुपए मिलता हैं. (youtube se paise kaise kamaye)

youtube se paise kaise kamaye

यूट्यूब विज्ञापन से लोग करोड़ों रूपये भी कमा रहे हैं. मगर विज्ञापन कमाई बहुत सारे फैक्टर्स जैसे कि डेमोग्राफिकस, जिओग्रफ़िक्स, कंटेंट विषय, कंटेंट क़्वालिटी, बाउंस रेट इत्यादि पर डिपेंड करता हैं. चलिए जानते हैं

  • विषय (Niche) आप यूट्यूब से कितना कमा सकते हैं ये काफी हद तक आपके वीडियोस के टॉपिक पर भी डिपेंड करता हैं. यदि आप ऊँचे विज्ञापन खर्च वाले विषय के बारे में कंटेंट बनाते हैं तो आपकी कमाई ज्यादा होती हैं.  मगर यदि आप कम विज्ञापन ख़र्च वाले टॉपिक पर वीडियोस बनाते हैं तो आपकी यूट्यूब एड अर्निंग कम होगी.

उदहारण के तौर पर- एक व्यक्ति जो इंटरटेनमेंट विषय पर कंटेंट बनता है तो उसके वीडियोस को देखने वाले लोग ज्यादातर मनोरंजन पसंद होंगे. इसलिए उनको जो विज्ञापन यूट्यूब द्वारा दिखाए जायेगे वो उनके इंट्रेस्ट के हिसाब से होंगे. अतः ज्यादातर विज्ञापन इंटरटेनमेंट यानि कि मूवीस, गेमिंग इत्यादि टाइप के हो सकते हैं. जबकि एक व्यक्ति जो उच्च भुगतान विषय जैसे कि क्रिप्टोकोर्रेंसी इत्यादि पर कंटेंट बनता हैं तो उसके दर्शक भी उच्च भुगतान विषय यानि कि क्रिप्टोकोर्रेंसी विषय को पसंद करने वाले होंगे. और उनको उनकी पसंद के हिसाब से विज्ञापन दिखाए जायेंगे.

एक क्रिप्टोकोर्रेंसी वाले वीडियो में, बिटकॉइन ट्रेडिंग प्लैटफॉर्म्स जैसे कि कॉइनबेस  इत्यादि के विज्ञापन दिखाए जा सकते हैं. चूकि ये एक महंगे निवेश वाला विषय हैं और इस विषय के विज्ञापन भी काफी महंगे होते हैं.  स्वाभविक तौर पर CPC की दर भी काफी ऊँची होगी. अतः आप भी अपने यूट्यूब चैनल पर चलने वाले विज्ञापनों से अच्छी इनकम कर सकते हैं. (youtube se paise kaise kamaye)

  • दर्शकों की लोकेशन (Geography of Viewers) आप यूट्यूब से कितना कमा सकते हैं, ये आपको दर्शकों की लोकेशन पर भी काफी हद तक डिपेंड करता हैं. जैसे की यदि आपके दर्शक USA, UK या UAE जैसी अमीर देशों से होंगे तो आपके वीडियोस पर CPC ज्यादा मिलेगा क्योकि उन देशों के बिज़नेस का एडवरटाइजिंग बजट अन्य देशों के बिज़नेस के एडवरटाइजिंग बजट से बहुत ज्यादा होता हैं.  मगर आपको कंटेंट की भासा अंग्रेजी ही रखनी पड़ेगी क्योकि अंग्रेजी एक ऐसी भाषा हैं जो लगभग पूरी दुनिया में समझी जाती हैं.

यदि आपका कंटेंट अंग्रेजी में होगा तो इस बात की संभावना बहुत ज्यादा हैं कि आपके वीडियोस को दुनिया भर से लोग देखेंगे. इससे आपके वीडियोस को ज्यादा व्यूज मिलेंगे. चूकि विज्ञापन के लिए अलग-अलग जगह अलग-अलग CPC होता हैं. विकाशील देशों कि तुलना में विकसित देशों से CPC ज्यादा मिलता हैं. अतः यदि आपके वीडियोस को अमीर देशों के लोग भी देख रहे हैं तो आपके यूट्यूब पार्टनर प्रोग्राम से कमाई के चांस काफी बढ़ जाते हैं. (youtube se paise kaise kamaye)

  • आपके व्यूवर्स की इंटेंट (Viewers intent) यह वाकई एक बेहद जरुरी फैक्टर है.  इंटेंट मतलब इरादा. गूगल या फिर यूट्यूब का अल्गोरिदम ही ऐसा हैं कि वो आपके इंटेंट को समझता हैं. आपकी रूचि के विषय को ध्यान में रखते हुवे आपको विज्ञापन दिखाता हैं. यदि आप यूट्यूब में अलग-अलग पकवान बनाना देखते हैं या सीखते हैं तो यूट्यूब का अल्गोरिदम ये जान पाता हैं कि आपकी रूचि कुकिंग में हैं. और वो आपको कुकिंग से रिलेटेड विज्ञापन जैसे के मसालों के विज्ञापन इत्यादि दिखायेगा. इस तरह के विज्ञापन तुलनात्मक तौर पर कम खर्चीले होते हैं और कम CPC होने की वजह से आपकी कमाई भी कम होगी.

यदि आपके ज्यादातर दर्शको की इंटेंट बिज़नेस ओरिएंटेड हैं जो बड़े सपने देखते हैं और लाइफ में कुछ बड़ा करना चाहते हैं तो निश्चित तौर पर वो बिज़नेस के अवसरों की तलाश में गूगल या फिर यूट्यूब की हेल्प लेते होंगे. इससे गूगल और यूट्यूब को ये बात पता होगी कि ये लोग बिज़नेस के अवसर की तलाश में हैं. इस तरह सर्च इंजन को आपकी इंटेंट समझता हैं और आपको आपकी इंटेंट के हिसाब से विज्ञापन दिखाता हैं. एक बिज़नेस इंटेंट के बन्दे को यूट्यूब उसके बिज़नेस इंटेंट से रिलेटेड विज्ञापन ही दिखाता है. चूकि बिज़नेस से रिलेटेड ज्यादातर विज्ञापन महंगे होते हैं तो CPC भी ज्यादा होता हैं. अतः बड़ी और महगी इंटेंट वाले लोग अगर उस विज्ञापन को देखते हैं तो आपकी कमाई भी बढ़ जाती हैं. (youtube se paise kaise kamaye)

या यू कहें कि ऊँची निवेश मांग वाले कंटेंट के ऊपर या फिर बिज़नेस ओरिएंटेड इंटेंट को जो विज्ञापन सर्व किये जाते हैं वो ज्यादातर हाई CPC  के होते हैं.  अतः आप यूट्यूब से कितने कमा सकते हैं, ये आपके व्यूवर के इंटेंट और ओरिएंटेशन पे भी काफी हद तक डिपेंड करता हैं.

  • विज्ञापन योग्य कीवर्ड्स का प्रयोग (Use of Advertisement Friendly Keywords): यूट्यूब का सर्च इंजन भी कमोबासे गूगल के सर्च इंजन की ही तरह काम करता है. अगर हम यूट्यूब के सर्च बॉक्स में कोई क़्वायरी डालते हैं तो यूट्यूब हमे हमारे कीवर्ड्स के हिसाब से वीडियोस दिखता हैं. हमारे द्वारा खोज किये गए कीयवर्ड्स से यूट्यूब का अल्गोरिदम ये अंदाजा लगा लेता है कि हम क्या चाहते है.

 (youtube se paise kaise kamaye) चलिए इसे हम एक उदहारण के जरिये समझते हैं-  मान लो कि आप यूट्यूब में किसी मोबाइल का रिव्यु देखना चाहते हैं तो आप मोबाइल रिव्यु  से रिलेटेड कीवर्ड ही सर्च करेंगे. आपके कीवर्ड से  यूट्यूब का अल्गोरिदम ये समझ लेता है कि आप मोबाइल का रिव्यु देखना चाहते हैं और उसके हिसाब से ही  आपको वीडियो की लिस्ट दिखाता है. साथ ही आपके सर्च किये गए कीवर्ड और आपके द्वारा देखे गए वीडियोस से यूट्यूब के अल्गोरिदम को आपके इंट्रेस्ट का पता लग जाता है. और फिर आपको मोबाइल फ़ोन के विज्ञापन दिखाए जाते हैं .

अब यहाँ पर समझने वाली बात ये है कि आपने  जो कीवर्ड्स सर्च बॉक्स में दर्ज किया अगर वो कीवर्ड बाइंग इंटेंट कीवर्ड है तो आपको जो विज्ञापन दिखेंगे वो बहुत हाई CPC के होंगे.

क्योकि ऐसे कीवर्ड्स के जरिये आने वाले व्यूवर्स में मोबाइल बेचने वाली कंपनियों को एक सटीक और टारगेट करने योग्य कस्टमर दिखता हैं और उस कस्टमर को सारी मोबाइल बेचने वाली कंपनियां आपने मोबाइल का विज्ञापन दिखाना चाहती हैं इसलिए उस कीवर्ड की बिडिंग ऊँचे प्राइस पे होती हैं.

मतलब साफ हैं कि यदि आपके वीडियोस ऐसे हैं जो कि एक व्यूवर के बाइंग इंटेंट को अड्रेस करते हैं और वीडियोस के टाइटल और डिस्क्रिप्शन में आपने ऐसे बाइंग इंटेंट कीवर्ड्स को शामिल किया है तो आपके वीडियोस पे हाइ CPC विज्ञापन चलेंगे और आपकी यूट्यूब एडसेन्स की कमाई भी कई गुना बढ़ सकती है.

  • कंटेंट की क़्वालिटी और क़्वान्टिटी (Quality and Quantity of Content):  आपके वीडियोस को ज्यादा व्यूज तब ही मिलेंगे जब आप अच्छी गुणवत्ता का कंटेंट बनायेगे. अच्छी गुणवत्ता से हमारा मतलब हैं कि आपका कंटेंट क़्वायरी फोकस्ड हो. व्यूवर्स इंटेंट को अच्छे से अड्रेस करता हो. साथ ही आपके द्वारा दी जा रही इनफार्मेशन एकदम सटीक और सही हो. अगर आपके कंटेंट में दम होगा तो व्यूवर्स आपके चैनल को सब्सक्राइब करेंगे, आपके चैनल पर बार-बार आएंगे और आपके वीडियोस को लास्ट तक देखंगे तो यूट्यूब आपके चैनल को ज्यादा लोगों को सजेस्ट करेगा. इससे आपके वीडियोस पर विज्ञापन ज्यादा चलेंगे. अतः अब आपको आईडिया आ गया होगा कि क़्वालिटी कंटेंट देने से यूट्यूब से आप कितने पैसे कमा  सकते हैं.


ये भी पढ़े टिकटोक से रुपए कैसे कमाए (Tiktok se kaise kamaye)

 

यूट्यूब पर विज्ञापन के अलावा कमाई के अन्य तरीके. (Other Way of Earning From Youtube Except Partner Program):

यूट्यूब पर हर रोज करोड़ों लोग अरबों घंटे बिताते है. अतः इतने भीड़-भाड़ वाले बाजार में आपके लिए कमाई के अनेक तरीके होना स्वाभाविक है. लेख के इस सेक्शन में आप जानेगे कुछ  बहुत ही सटीक असरदार तरीके जिनको इम्प्लीमेंट करके आप भी यूट्यूब से अच्छी कमाई कर सकते है. चलिए समझते है.

1: एफिलिएट मार्केटिंग के जरिये यूट्यूब से कमाई करना (Affiliate Marketing ):

यूट्यूब एफिलिएट मार्केटिंग से अर्निंग के लिए भी एक बेहतरीन प्लेटफॉर्म हैं. लोग यूट्यूब एफिलिएट से करोड़ों  डॉलर्स कमा रहे हैं. एफिलिएट मार्केटिंग का सीधा और सरल सा मतलब होता हैं  किसी  कंपनी या व्यक्ति के प्रोडक्ट्स को प्रमोट करके बेचना. प्रोडक्ट्स को बेचने के बदले आपको फिक्स कमिशन मिलता हैं. एफिलिएट मार्केटिंग के लिए आपको सही एफिलिएट नेटवर्क ज्वाइन करना होता हैं.

affiliate marketing on youtube in hindi

shareasells और commissionjuction जैसे प्लैटफॉर्म्स में एफिलिएट के जरिये  प्रोडक्ट्स सेल करने की इच्छा रखने  वाली कंपनी या फिर व्यक्ति रजिस्टर्ड होते हैं. आप यहाँ से अपने मन मुताबिक प्रोडक्ट्स का चयन कर उस प्रोडक्ट के एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन कर सकते हैं. आपको प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए एक लिंक दिया जाता हैं. इसी लिंक से आपको प्रोडक्ट सेल करना होगा.  आप उस प्रोडक्ट को यूट्यूब में भी प्रमोट कर सकते हैं. आपके लिंक्स से जितने भी प्रोडक्ट सेल होंगे आपको उतना ही कमीशन आपके अकाउंट में मिलता रहेगा.

आप अमेज़ॉन एफिलिएट भी ज्वाइन कर सकते है. आपको अमेज़ॉन में से प्रोडक्ट चुनकर आपने चैनल के माध्यम से प्रमोट  करना होता है. जो भी प्रोडक्ट आप प्रोमोट करते है उसका लिंक आपने वीडियो के डिस्क्रिप्शन बॉक्स में दे देते है. ऐसे में जब भी कोई कस्टमर आपके लिंक के माध्यम से अमेज़ॉन विजिट करता है और  24  घंटे के अंदर कुछ खरीदता है तो आपको एक फिक्स्ड कमीशन मिलता है.  आजकल बहुत से लोग यूट्यूब के जरिये अमेज़न एफिलिएट से भी लाखो कमा रहे हैं.

2: स्पॉन्सरशिप के जरिये यूट्यूब से कमाई करना (Sponsorship):

किसी प्रोडक्ट को  स्पॉन्सर करना मतलब कीमत लेकर किसी वस्तु के बारे में कुछ अच्छा ब्लॉग लिखना या फिर वीडियो बना कर बताना. अगर आप किसी एक विषय के बारे में यूट्यूब वीडियो पब्लिश करते हैं और आपके पास अच्छा सब्सक्राइब बेस है तो उस विषय में बिज़नेस करने वाली कम्पनियाँ या फिर लोग आपसे अपने प्रोडक्ट्स या सर्विसेस के बारे में वीडियोस बनाने के लिए अप्रोच करते हैं. ऐसा करने के लिए वो लोग आपको कुछ कीमत देते हैं. ये कीमत आपकी फेस वैल्यू, कंटेंट क़्वालिटी और आपके वीडियोस पर कितने व्यूज आते हैं इत्यादि  के आधार पर तय होती है. ये कीमत १००० रुपए से लेकर लाखो रूपये तक भी हो सकती है . इस तरह स्पॉन्सरशिप भी यूट्यूब से पैसे कमाने का अच्छा जरिया है.

3: खुद के प्रोडक्टस सेल करके  यूट्यूब से रूपये कामना(Product Selling):

यूट्यूब से कमाने का यह एक और  बेहतरीन तरीका हैं. आप एक छोटी-मोटी  वेबसाइट बनाकर आपने प्रोडक्टस को ऑनलाइन लिस्ट कर सकते है, फिर यूट्यूब के जरिये प्रमोट करके बेच सकते है और  पैसे  कमा सकते हैं. इसके लिए आपको अपने यूट्यूब वीडियोस में अपने प्रोडक्ट्स के बारे में बताना होगा साथ ही आपकी वेबसाइट या फिर उस प्रोडक्ट का डायरेक्ट लिंक अपने वीडियो के डिक्रिप्शन में देना होगा.

आप चाहे हो कमेंट बॉक्स में लिंक देकर भी उसे पिन कर सकते हैं, इससे आपका लिंक आपके कमेंट सेक्शन में सबसे ऊपर दिखेगा और आपके व्यूवर को आपकी वेबसाइट तक पहुंचने में आसानी होगी. आप  यूट्यूब के एक खास फीचर “इंटरेक्टिव कार्ड्स” का यूज़ भी अपनी वेबसाइट में ट्रैफिक लाने के लिए कर सकते हैं.

बड़े-बड़े व्यापारिक प्रतिष्ठानों से लेकर अनेक स्टार्टअप्स और छोटे-मझोले किस्म के व्यापारी भी आजकल यूट्यूब पर अपने प्रोडक्ट्स को प्रमोट कर रहे है और ग्राहकों तक अपनी पहुंच को बढ़ा रहे है. आप चाहे तो अपने प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग के लिए यूट्यूब विज्ञापन का सहारा लेकर भी अपने प्रोडक्ट्स को प्रमोट कर सकते है. अतः यूट्यूब, प्रोडक्ट्स सेलिंग के लिहाज से भी एक फायदेमंद प्लेटफॉर्म साबित हुवा है और लोग यूट्यूब से कमाई कर रहे हैं.

यूट्यूब वीडियोस के माध्यम से आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो तरह से बिज़नेस को प्रमोट कर सकते है.

  • ऑनलाइन बिज़नेस को यूट्यूब में प्रमोट कर पैसे कमाना – ऑनलाइन बिज़नेस, जैसे ई-कॉमर्स वेबसाइट का प्रमोशन हो या फिर किसी एप बेस्ड बिज़नेस का आप यूट्यूब वीडियोस का उपयोग अपने बिज़नेस की रीच बढ़ने के लिए कर सकते है. अपने बिज़नेस के लिए एक चैनल बनाकर आप अपने प्रोडक्ट्स के बारे में लोगों को वीडियोस के माध्यम से बता सकते है साथ ही व्यूवर्स को प्रोडक्ट्स खरीदने हेतु अपनी वेबसाइट या एप  को  रेफेर कर सकते है.  वीडियोस के डिस्क्रिप्शन में प्रोडक्ट्स या वेबसाइट का लिंक देकर अपने व्यूवर्स को एक लॉयल कस्टमर में बदल सकते है.

यूट्यूब वीडियोस के जरिये कमाने के लिए आपको प्रोडक्ट्स वीडियोस के कमैंट्स सेक्शन का भी भरपूर प्रयोग करना चाहिए. यूट्यूब के माध्यम से अपने प्रोडक्ट सेल करके कमाई करने के लिए कमेंट्स में पूछे गए सवालों का जबाब देना भी काफी कारगर रणनीति है. साथ ही सवालो के जबाब देते समय  प्रोडक्ट्स का लिंक कमेंट्स के माध्यम से प्रोवाइड करना आपके प्रोडक्ट के लिए नया कस्टमर ला सकता है. इस तरह आप अपने ऑनलाइन बिज़नेस को यूट्यूब में पमोट करके  भी  यूट्यूब से कमाई कर सकते है. (youtube se paise kaise kamaye)

  • ऑफलाइन बिज़नेस को यूट्यूब में प्रमोट कर पैसे कमाना– वो लोग जिनका ऑफलाइन बिज़नेस हैं और ऑनलाइन प्रजेंस नहीं हैं वो भी यूट्यूब चैनल बनाकर अपनी सेल बढ़ा सकते हैं. यूट्यूब के जरिये आपकी कंपनी या दुकान के प्रोडक्ट्स के बारे में वीडियोस बनाकर अपलोड करने से आपकी कंपनी या दुकान के बारे में ज्यादा लोगों को पता चलता है. (youtube se paise kaise kamaye) साथ ही आपके काम के प्रति लोगों में विश्वास बढ़ता है और धीरे – धीरे आप एक विश्वसनीय ब्रांड बनने लगते है. इस तरह आपके पास ज्यादा कस्टमर्स आने लगेंगे और आपकी सेल भी कई गुना बढ़ जाएगी. अतः ये भी एक तरीका है यूट्यूब से रुपए कमाने का. आप अपने खुद के प्रोडक्ट बेचकर भी यूट्यूब के जरिये अर्निंग कर सकते हैं.

4: यूट्यूब मर्चेंडाइज के जरिये यूट्यूब से कमाई का विकल्प (Youtube Merchandise)

यूट्यूब मर्चेंडाइज  क्रिएटर्स के लिए यूट्यूब द्वारा ऑफर किया जाने वाला  एक इनबिल्ट बिज़नेस टूल है. इसके जरिये आप अपने व्यूवर्स को विभिन्न प्रकार के मर्चेंडाइज बेच सकते है. जैसे कि कस्टम टी- शर्टस, हुडीज आदि.  अगर आपके चैनल पर व्यूज अच्छे आते हैं और लोग आप पर ट्रस्ट करते हैं तो यूट्यूब से कमाई के तरीकों में मर्चेंडाइज (Youtube merchandise)से कमाना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता हैं. यूट्यूब स्टूडियो के डेशबोर्ड में आपको यूट्यूब मर्चेंडाइस साइन अप करने का विकल्प मिल जायेगा.

youtube merchandise in hindi

5: चैनल मेम्बरशिप के जरिये यूट्यूब से कमाई का तरीका

चैनल मेम्बरशिप के जरिये आप अपने सब्सक्राइबरस को अपने चैनल की मेम्बरशिप के लिए मासिक फीस चार्ज करते हैं. हालाँकि इस ऑप्शन से कमाने के लिए आपको कुछ शर्तों पर खरा उतरना पड़ेगा. जैसे कि ये ऑप्शन आपको 100000 सब्सक्राइबर पूरे होने पर ही मिलता हैं, आपकी उम्र 18 + होनी भी जरुरी हैं साथ ही आप यूट्यूब पार्टनर प्रोग्राम में भी शामिल होने चाहिए इत्यादि

 (youtube se paise kaise kamaye) चैनल की मेंबरशिप का ऑप्शन भी आपको  यूट्यूब स्टूडियो के डैशबोर्ड में मिल जायेगा. इसके जरिये आपके सब्सक्राइबर स्पेसल इमोजीस, पर्क और बैज के लिए आपको एक निश्चित मासिक सब्सक्रिप्शन पे करते है और आप उन्हें अपने चैनल में कुछ विशेषाधिकार देते हैं. और आपके सब्सक्राइबर आपके मेंबर्स ओनली कम्युनिटी टैब, मेंबर्स  पोस्ट, एक्सक्लूसिव लाइव स्ट्रीम या फिर किसी टिकट सेल में जल्दी हिस्सा लेने जैसे अनेक प्रिविलेजस का लाभ उठाते हैं.


हिन्दीवाल के अन्य ज्ञानवर्धक लेख

नीम करोली बाबा मंदिर कैंची धाम (KAINCHI DHAM ASHRAM)
स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय (SWAMI VIVEKANANDA IN HINDI)
मुनस्यारी (दर्शनीय स्थल) (MUNSIYARI)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *